दिल्ली गवर्नमेंट बर्खास्त की जानी चाहिए |

दिल्ली के मुख्यमंत्री के द्वारा किए जा रहे कार्यों को लेकर एक अधिवक्ता ने दिल्ली के महामहिम राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन उपजिलाधिकारी को सौंपा। महर्षि वेदव्यास की जन्मस्थली एवं अधिवक्ता कालपी निवासी देवेंद्र कुमार श्रीवास्तव ने महामहिम को संबोधित ज्ञापन उपजिलाधिकारी हेमंत पटेल को सौपते हुए अवगत कराया कि प्रार्थी को भारतीय संविधान में पूर्णता आस्था है और भारतीय होने का सदैव गर्व है प्राधी जागरुक व्यक्ति है और हमेशा इस वेश्वास में रहता है कि प्रार्थी म आदि की सरकार में अप्रत्यक्ष रूप से भागीदारी है जो संविधान सम्मत है मौजूद समय में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल न्यायिक हिरासत में है न्यायिक हिरासत विधि के दायित्व के अधीन होता है जिसमें आम खास सभी एक समान होते हैं और जिसमें मॉनिटरिंग न्यायालय द्वारा की जाती है दिल्ली का शासन प्रशासन आपके माध्यम से मुख्यमंत्री द्वारा किया जाता है जिसमें हमारे दिल्ली राज्य की आम जनता के हित में कार्य किए जाते हैं मुख्यमंत्री केजरीवाल ने स्पष्ट रूप से कहा है की दित्री की सरकार जेल से ही चलाऊंगा संभवता व्यवहारिक दृश्य कौन से ऐसा संभव नहीं है और जिसकी वजह से हमारे दिल्ली वासी लोकतंत्र सरकार से वंचित हो रहे हैं आप दिल्ली सरकार के संवैधानिक प्रमुख है ऐसी स्थिति में दिल्ली सरकार को दिल्ली वासियों के हित में दिल्ली को वर्तमान सरकार को भंग किया जाना आवश्यक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *